मनोबल वृद्धि के लिए करें योग-राजयोग – ब्र. कु . प्रेमलता दीदी

कामठी ता.प्र.दी.२२:- अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय कामठी की सेवा केंद्र संचालिका ब्रह्मा कुमारी प्रेमलता दीदी ने सभी को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की बधाई देते हुए योग का महत्व सुनाया जिसमें उन्होंने कहा कि योग वास्तव में हमारी प्राचीन संस्कृति है । योग करने से हमारी दिनचर्या संतुलित होती हैं साथ ही इसका मुख्य फायदा हमारे मनोबल में वृद्धि होती है। सामंजस व संतुलन यही योग के मूल तत्व है। योग हमारी भारतीय संस्कृति की विरासत है । यह योग तन को स्वस्थ बना सकता है और मन को नियंत्रित रखने के लिए राजयोग योग करना है । मनुष्य की आंतरिक शक्ति बढ़ाने की अद्भुत क्षमता इसी योग- राजयोग में है ।ब्रह्मा कुमारी प्रेमलता दीदी ने सभी को आसन प्राणायाम कराते हुए कुछ समय राजयोग का अभ्यास कराया और राजयोग को दैनिक दिनचर्या में शामिल करने का आव्हान किया। सेवा केंद्र पर भी सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए योग और आसन किए जिसमें रनाला की सरपंच सौ सुवर्णा ताई साबरे, उपसरपंच सौ.आरती कुल्लरकर, सौ. सविता सपाटे,सौ. विमल ताई साबरे, अनीता मैडम हरिहर गायधने ब्र.कु. शिलू बहन, चंद्रकला बहन आदि उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *